Thursday, February 7, 2019

Symptoms of Diabetes their Cause and treatment in hindi


Symptoms of Diabetes their Cause and treatment


Symptoms of Diabetes their Cause and treatment,diabetes mellitus
diabetes mellitus treatment



Diabetes जिसे हम मधुमेह के नाम से भी जानते है आज ये पूरी दुनिया में अपने पैर पसार चुका है | भारत में भी लोग इस समस्या से बहुत तेज़ी से प्रभावित हो रहे है | आज भारत में हर 20 में से 3 लोग इस समस्या से प्रभावित है | ये एक ऐसा भयानक रोग है जो अगर एक बार किसी व्यक्ति को हो जाता है तो उम्र भर उस व्यक्ति के साथ रहता है |
आज भारत  में Diabetes से प्रभावित व्यक्ति की संख्या बड़ी तेज़ी से बढ़ रही है | जिसका मुख्य कारण मोटापा , गलत जीवन शैली है | पहले ये रोग अधिक उम्र वाले व्यक्तियों में देखा जाता था लेकिन आजकल ये कम उम्र वाले व्यक्तियों मे भी दिखने लगा है | जिसके कारण इसकी संख्या  में और तेज़ी से वृद्धि हुई है | और आने वाले समय में हर 10 में से 5वा व्यक्ति इस गंभीर समस्या से प्रभावित  होगा |

किसी व्यक्ति  को Diabetes तब होती है जब व्यक्ति के पेट के पास उपस्थित Pancreas insulin बिलकुल भी उत्पन्न नही कर पाता या बहुत  कम मात्रा  में उत्पन्न  करता है | इस  इन्सुलिन का काम ये होता है की जो भी हम खाते है वो जब उर्जा में परिवर्तित हो जाता है तो ये इन्सुलिन उस उर्जा को हमारी कोशिकाओं के भीतर ले जाता है | अगर किसी व्यक्ति को Diabetes है तो उस व्यक्ति में इन्सुलिन बहुत कम बनता है |

जिसके कारण भोजन  के द्वारा उत्पन्न  उर्जा व्यक्ति के कोशिकाओ तक नहीं पहुँच पाती  और ये उर्जा रक्त में शर्करा के रूप में एकत्रित होती रहती है |  जिसे हम रक्त में sugar का बढ़ना भी कहते है | अगर रक्त में बढ़े  हुए इस शर्करा या sugar को कम या नियंत्रित ना किया जाए तो ये शरीर के अन्य अंगो जैसे दिल, गुर्दे , लीवर और आँखों को नुक्सान पहुँचाना शुरू कर देता  है |  अगर इस पर ध्यान ना  दिया जाए तो ये अंग ख़राब होने लगते है | लेकिन अगर आप सही दिनचर्या और सही खान पान का ध्यान रखते है तो आप अपने रक्त में बढ़े शर्करा को आसानी से नियंत्रण में रख सकते है |

मधुमेह दो प्रकार का होता है |


Type 1 Diabetes –



इस प्रकार का मधुमेह बहुत कम देखने को मिलता  है | इस प्रकार का  मधुमेह ज्यादातर छोटे बच्चो और कम उम्र के व्यक्तियों  में दिखाई देती है | इस समस्या में छोटे बच्चो में किसी कारण से इन्सुलिन बिलकुल भी नहीं बन पाता जिसके कारण बच्चा टाइप 1 मधुमेह से ग्रसित हो जाता है | अगर किसी को इस प्रकार की Diabetes है तो उसे उम्र भर इन्सुलिन का इंजेक्शन लेना पड़ता है जिससे उनके शरीर में बढ़ी हुई शर्करा को  नियंत्रण में रखा जा  सकें | 

Type 2 Diabetes-



इस प्रकार का मधुमेह लोगो में ज्यादा दिखाई देता है | 95% लोगो में ज्यादातर इसी प्रकार का मधुमेह दिखाई देता है | ये मधुमेह ज्यादातर  अधिक उम्र वाले व्यक्तियों में दिखाई देता  है | लेकिन आजकल की गलत जीवन शैली की वजह से  युवाओं को भी अपनी चपेट में ले रहा है | इस Diabetes में व्यक्ति का Pancreas इन्सुलिन उत्पन्न तो करता है लेकिन वो इन्सुलिन ठीक से काम नहीं कर पाता | जिसके कारण रक्त में शर्करा का स्तर बढ़ने लगता है | लेकिन इस प्रकार के मधुमेह को कुछ दवाइयों , योग और घरेलू  इलाज के द्वारा नियंत्रण में रखा जा सकता है | इसमें उम्र भर इन्सुलिन के इंजेक्शन लेने की अव्यश्कता नहीं पड़ती | 

Cause of Diabetes (मधुमेह का कारण)-


आजकल की तकनीक से भरी दुनिया में लोगो का काम आसान करने के लिए रोज़ नए नए अविष्कार हो रहे है | इन अविष्कार से बनी वस्तुओं से लोगो का काम तो आसान हो रहा है पर इस आराम के कारण लोगो को कई प्रकार की समस्या का सामना भी  करना पड़ रहा है | मधुमेह इनमे से एक है | बहुत से  लोगो में ये भ्रम है की मधुमेह उन लोगो को होता है जो ज्यादा मीठा या मिठाई का सेवन करते है | 

लेकिन ये एक भ्रम है | अगर आप का वजन ज्यादा है और आप कोई भी शारीरिक व्यायाम या कोई भी काम नही करते बस लेटे या बैठे रहते है तो इसकी पूरी सम्भावना है के आपको Diabetes हो सकती है | 

आइए जानते है मधुमेह के कुछ अन्य कारण 

  • अधिक मात्रा में जंक फ़ूड खाना
  • शरीर का वजन बढ़ना या मोटापा
  • शारीरिक श्रम ना करना
  • अनुवांशिक
  • तनाव और धुम्रपान 


Symptoms of Diabetes (मधुमेह के लक्षण)-


अगर किसी व्यक्ति में मधुमेह के शुरुआती  लक्षण दिखाई देतें  है और व्यक्ति इन लक्षणों को नज़र अंदाज़ ना करके सही समय पर इसका  उपचार कराता है तो मधुमेह के खतरे को कम किया जा सकता है | लेकिन इसके लिए ये जानना आव्यशक है की मधुमेह के लक्षण क्या है | जिससे व्यक्ति सतर्क हो सके तो आइए जानते है Diabetes के कुछ लक्षण –

मुहँ का सूखना –

अगर किसी व्यक्ति का मुहं बार बार सूख रहा है और पानी पीने  के कुछ देर बाद फिर से सूख रहा है तो व्यक्ति को तुरंत अपने रक्त की जांच करनी चाहिए |

बार बार प्यास लगना –

मधुमेह में व्यक्ति को बार बार प्यास लगती है पानी पी लेने के कुछ देर बाद फिर से प्यास लगती है और गला सूखता है | ऐसा होने पर डोक्टर से तुरंत मिले |

धुंधला दिखाई देना –

अगर किसी व्यक्ति को देखने में आँखों पर ज़ोर देना पड़ता है या देखने पर धुंधला दिखाई देता तो ये संकेत है की  आपके रक्त में शर्करा की मात्रा बहुत अधिक बढ़ गई है |

थकान महसूस होना –

मधुमेह होने पर व्यक्ति को थकान बहुत महसूस होती है | अगर किसी व्यक्ति को थोड़ी सी दूर चलने पर या हल्के फुल्के काम करने पर बहुत ज्यादा थकान महसूस होती है तो ये भी एक लक्षण है मधुमेह का |

हाँथ पैरो में दर्द –

अगर किसी व्यक्ति को बिना किसी कारण के अपने हाँथ पैरो में दर्द महसूस हो रहा है तो ये भी मधुमेह का एक लक्षण है |

बार बार पेशाब आना –

जब किसी व्यक्ति को मधुमेह हो जाता है तो उसके रक्त में शर्करा की मात्रा बढ़ जाती है जिसे शरीर मूत्र के द्वारा बहार निकालता है | जिसके प्रभावित व्यक्ति को बार बार पेशाब आता है और बार बार पेशाब जाने की वजह से व्यक्ति में पानी की कमी हो जाती है और इसी कारण Diabetes  में व्यक्ति को बार बार प्यास लगती है |

वजन का तेज़ी से कम होना –

अगर किसी व्यक्ति का वजन बिना किसी वजह के  तेज़ी से कम हो रहा है तो व्यक्ति को सावधान हो जाना चाहिए ये मधुमेह का एक प्रमुख लक्षण है |

Symptoms of Diabetes their Cause and treatment

Home remedies for Diabetes (मधुमेह का घरेलु उपचार)-


Diabetes होने पर यदि व्यक्ति इन घरेलू नुस्खो को प्रयोग में लता है तो मधुमेह को आसानी से नियंत्रण में रखा जा सकता है | आइए जानते है कुछ घरेलू  नुस्खे 

Symptoms of Diabetes their Cause and treatment,diabetes mellitus symptoms
diabetes mellitus type 1


जामुन  का सिरका –

भारत में कई प्रकार के फल पाए जाते है लेकिन जामुन एक अकेला ऐसा फल है जो मधुमेह रोगियों के लिए बहुत ही लाभ कारी है | मधुमेह में अगर आप जामुन के सिरके का रोजना सेवन करते है तो आपका बढ़ा  हुआ मधुमेह बहुत ही जल्दी नियंत्रण  में आ जायेगा | इसके लिए आप  शुद्ध जामुन का सिरका ले उसमे थोड़ी सी पीसी हुई मेथी मिला दे और इस सिरके को 10 से 15 दिन रोज़ धूप  में रख दिया करे | फिर 15 दिन बाद रोज़ाना सुबह खाली  पेट दो चमच इस सिरके का सेवन करे ऐसा करने से आपका बढ़ा हुआ रक्त शर्करा कम होने लगेगा |

जामुन की गुठली –

जामुन के सिरके की ही तरह जामुन की गुठली भी Diabetes में बहुत ही लाभदायक है | आप जामुन की घुठ्लियो को सुखा कर उसको पिस कर उसका पाउडर बना ले और रोज़ सुबह खाली पेट एक चमच इस पाउडर का सेवन करे और ऊपर से एक ग्लास हल्का गर्म पानी पी ले | ऐसा करने से मधुमेह में बहुत ही लाभ मिलेगा |

Symptoms of Diabetes their Cause and treatment,diabetes in hindi
symptoms diabetes hindi
Symptoms of Diabetes their Cause and treatment

सदाबहार के फूल –

दोस्तों सदाबहार एक ऐसा पौधा है इसमें पूरे  साल फूल आते रहते है इसलिए इसे सदाबहार  कहते है | Diabetes में आप इसकी पत्तियों और फूल का प्रयोग कर सकते है | सदाबहार का  फूल हल्के गुलाबी और कोई कोई सफ़ेद  रंग के होते  है | इसके लिए आप इसके 6 से 7 फूल ले और इनको अच्छी तरह धो कर सुबह खाली  पेट मुहं में डाल कर चबा चबा कर खाए | ऐसा आप एक महीने तक करे उसके बाद अपने रक्त की जांच कराए जिससे आपको पता लग पाए sugar कम हुई है या नही |

करेले का रस –

दोस्तों आप में से ज्यादातर लोग इसके बारे में तो जानते ही होंगे की करेले के कडवे स्वाद के कारण इसको मधुमेह में उपयोग किया जाता है | ये व्यक्ति के रक्त में बढ़े हुए  शर्करा को बहुत तेज़ी से कम करता है इसके लिए  आप कुछ ताज़े करेले ले और उसका रस निकाल ले | इस रस का सुबह खाली पेट सेवन करे आप चाहे तो इस रस में टमाटर और खीरे का रस भी मिला सकते है जो इसको और ज्यादा प्रभाव शाली बना  देगा | Diabetes रोगी इस नुस्खे को जरुर अजमाए |

मेथी दाने –

दोस्तों में के दानो में प्राकृतिक रूप से इन्सुलिन पाया जाता है जो व्यक्ति के बढ़े  हुए रक्त शर्करा को कम करने में मदत करता है | आप 2 चमच मेथी  को रात में पानी में भीगा दे और सुबह खाली  पेट इस मेथी दाने को खूब चबा चबा कर खाए और बचे ही पानी को पी ले | इससे मधुमेह में आपको बहुत ही जल्दी लाभ मिलेगा | आप चाहे तो मेथी के दाने को सुखाकर उसका पाउडर बना ले और रोज़ सुबह गर्म पानी के साथ इस पाउडर का सेवन करे |

Diabetes में परहेज़ –


मित्रों अगर किसी व्यक्ति को मधुमेह हो गई है और वेह व्यक्ति सही समय पर अपनी दवाइयां लेता  है परन्तु किसी प्रकार का परहेज़ नहीं करता तो उसका दवाई खाना भी बेकार है | क्योंकि अगर आप अपने मधुमेह को नियंत्रण में रखना चाहते हो तो आपको अपने मन को भी नियंत्रण में रखना पड़ेगा | अगर आप docter से मिले होंगे तो उन्होंने आपको बताया होगा के आपको क्या खाना है क्या नहीं | 

अगर आपको मधुमेह को नियंत्रण में रखना है तो बहार की तली हुई चीज़े , जंक फ़ूड , मैदे से बनी हुई चीज़े ,मीठा ,आलू ,चावल ,कोल्ड ड्रिंक्स इन सभी को बंद करना होगा | आप हरी पतेदार सब्जिया खाए इनमे अधिक मात्रा  में फाइबर पाया जाता है जो मधुमेह  रोगी के लिए बहुत ही अछा होता है |

मधुमेह में कुछ ज़रूरी बातें –

मधुमेह से ग्रस्त व्यक्ति को अपने जीवन शैली में बदलाव लाने ही पड़ते है ताकि उनकी मधुमेह नियंत्रण में रह सके | इसके लिए आप रोज़ सुबह सैर पर जाए कम से कम 30 मिनट पैदल तेज़ चले | योग को महत्व दे प्राणायाम करे मधुमेह में मंडूक आसन कपाल भारती बहुत ही लाभ पहुंचाते है | आप रोज़ाना सुबह योग करे |

अगर आप धुम्रपान करते है तो इसे तुरंत छोड़ दे और ना  ही शराब का सेवन करे | रोज़ाना 30 मिनट व्यायाम करे अपने आप को जितना हो सके उतना व्यस्त रखने की कोशिश करे | पर्याप्त नींद ले | 

0 comments: