Saturday, March 30, 2019

Symptoms of lung cancer and their cause in Hindi

Symptoms of lung cancer and their cause in Hindi
lung cancer


Symptoms of lung cancer and their cause in Hindi




दोस्तों आज दुनिया भर में आज लोगों को कई प्रकार के कैंसर होने लगे है और इन्ही कैंसर ,में से एक कैंसर है Lung cancer जिसे हम फेफड़ों का कैंसर भी बोलते है दोस्तों ये कैंसर लोगो में कई कारणों से होता लेकिन इसक एक जो मुख्य कारण है वो है धुम्रपान दोस्तों बीडी सिगरेट में कई ऐसे हानि कारक रसायन पाए जाते है जो व्यक्ति के फेफड़ों को नुक्सान  पहुंचाते  है और इसमें पाए जाने वाला एक रसायन जिसे कार्सिनोजेंस रसायन कहते है ये व्यक्ति में Lung cancer का एक मुख्य रसायन है | इसके अलावा  दोस्तों व्यक्ति को कई अन्य प्रकार से भी Lung cancer हो सकता है जैसे गलत जीवन शैली गलत खान पान या प्रदूषण आदि से |

Lung cancer में व्यक्ति के फेफड़ों की कोशिकाए असमान्य रूप से  विकसित होने लगती है या उनमे वृद्धि होने लगती है जिसके कारण आगे चलकर वो एक cancer का रूप ले लेती है दोस्तों अन्य कैंसर के तरह ही यदि इस cancer का भी समय से पता चाल जाए तो इसको बहुत ही आसानी  से ठीक किया जा सकता है | लेकिन दोस्तों हमे ऐसा जीवन जीना चाहिए जिससे हमे कभी इस स्थिति  में पड़ना ही न पड़े इसलिए अगर आप में से कोई भी धुम्रपान करता है तो उस तुरंत छोड़ दे और एक स्वस्थ जीवन जिए | दोस्तों आइए जानते है Lung cancer के कुछ लक्षण जिससे आप उसे समय रहते है पहचान सके और उसका उपचार शुरू कर सके |



Lung cancer के लक्षण –

दोस्तों lung cancer को शुरुआत में पहचानना बहुत मुश्किल होता है क्योंकि शुरुआती समय में इसके कोई लक्षण नज़र नहीं आते लेकिन कुछ समय बाद पीड़ित व्यक्ति को खांसी शुरू हो जाती है और कई दिनों तक होती  ही रहती है या दी आपको खांसी हो रही हो और सामान्य घरेलू उपचार द्वारा वो ठीक ना हो रही हो तो आपको तुरंत डोक्टर को दिखाना चाहिए क्योंकि लगातार कई दिनों तक खांसी आना और ठीक ना होना यह Lung cancer का लक्षण हो सकता है | इसके अलावा अगर आपको आपके सीने में जकडन महसुस हो रही है और सांस लेने में तकलीफ हो रही है तो यह भी lung cancer का एक लक्षण है | कभी कभी lung कैंसर से पीड़ित व्यक्ति तो सांस लेने पर उसके सीने में दर्द महसूस होता है जो समय के साथ साथ बढ़ता चला जाता है |

lung cancer होने पर पीड़ित व्यक्ति का गला बैठ जाता है जिसके कारण उसके आवाज़ में परिवर्तन हो सकता है ऐसा होने पर व्यक्ति की आवाज़ भारी हो जाती है  अगर आपको इनमे से कोई भी लक्षण दिखाई दे तो तुरंत अपने डोक्टर से मिले और अपनी जाँच कराए |

Lung कैंसर से बचाव –

दोस्तों हमे अगर lung cancer से बचना है तो हमे सबसे पहले धुम्रपान छोड़ना होगा क्योंकि धुम्रपान ही इसका सबसे बड़ा कारण है अगार आप धुम्रपान छोड़ देते है तो lung कैंसर होने का खतरा बहुत कम हो जायेगा | इसके अलावा अगर आप एक स्वस्थ जीवन शैली जीते है पौष्टिक भोजन खाते है नियमित रूप से व्यायाम  करते है तो आप इस कैंसर के खतरे से बच  सकते है

Thursday, March 28, 2019

Cause , Symptoms of Headache and Their Home Remedies in Hindi

 Cause , Symptoms of Headache and Their Home Remedies in Hindi
headache in hindi


 Cause , Symptoms of Headache and Their Home Remedies in Hindi



Headache जिसे हम आम बोलचाल की भाषा में सर दर्द भी कहते है ये एक सामान्य से समस्या है जो हमे हमारे रोज़मर्रा के जीवन में अक्सर होती है ये व्यक्ति को या तो धीरे धीरे होती है या अचानक से होती है ये हर उम्र और हर वर्ग के लोगों को आसानी से हो जाता है | ये समस्या ज्यादातर हमारे सर के आगे वाले हिस्से में होती है और कुछ देर रहने  के बाद अपने आप ठीक हो जाती है|  जो लोग ज्यादा व्यस्त रहते है मतलब लगातार काम करते रहते है या कम के बीच में अन्तराल नहीं लेते ये Headache की समस्या उनको अपने चपेट में लेती है |

इसलिए आपने देखा होगा शहर के लोग या जो अपने काम से फुर्सत नहीं पाते उनको ये समस्या ज्यादा होती है इसके अलावा  इसके कई कारण है जो हमे Headache का शिकार बना सकते है | वैसे तो ये सर दर्द कुछ घंटो बाद या थोड़ी बहुत दवाई लेने से अपने आप ठीक हो जाता है लेकिन दोस्तों अगर ये Headache आपको बार बार हो रहा है , ठीक होने के कुछ देर बाद फिर से हो रहा है या लम्बे समय तक हो रहा है तो यह थोड़ा चिंता का विषय हो सकता है | क्योंकि ऐसी बहुत से गंभीर बीमारी है जिसके ये एक लक्षण हो सकता है और अगर ये समस्या बार बार होती है तो ये हमारे सर में पनप रही किसी बड़ी बीमारी का संकेत भी हो सकता है | इसलिए अगर ये समस्या आपको बार बार होती है तो तुरंत अपनी जांच कराए |

दोस्तों कई बार आपको ये समस्या सामान्य कारणों के वजह से हुई होगी जैसे बुखार ,बदहज़मी  ,तनाव और ज्यादा ठंड या गर्मी के कारण तो दोस्तों आज में अपने इस पोस्ट के माध्यम से आपको कुछ घरेलू नुस्खे बताऊंगा जो की इन साधारण कारणों से हो रहे Headache को ठीक करने में आपकी सहायता करेंगे | लेकिन दोस्तों उससे पहले आइए हम जानते है सर दर्द के कुछ कारणों के बारे में |

Headache होने  के कारण –


दोस्तों ये Headache हमे बहुत  से कारणों से हो सकता है अगर हम अपने जीवन शैली में कुछ बदलाव करे तो ये छोटी मोटी समस्या हमे कभी नहीं होंगी दोस्तों अगर आपके शरीर में टोक्सिन की अधिकता हो गई है तो आपको बुखार और उसके साथ साथ सर दर्द की समस्या का सामना  करना पड़ सकता है 

बदहज़मी –

दोस्तों आज हम अपने स्वाद के चक्कर में कुछ भी उल्टा सीधा खा लेते है वो भी बिना कुछ सोचे समझे और जब हम ऐसा भोजन या ऐसे खाद्य पदार्थ का सेवन कर लेते है जो सेहत के लिए अच्छे नहीं है तो उसके बाद हमे ऐसे भोजन को पचाने में दिकत होती है और इसके फलस्वरूप हमे बदहज़मी हो जाती है और ये भी एक कारण है व्यक्ति में  Headache  का | इसलिए हमे साधारण और ऐसा भोजन खाना चाहिए जो हमारे  शरीर और पाचन के लिए अच्छा हो इसके अलावा जरुरत से ज्यादा कभी नहीं खाना चाहिए कई लोग स्वाद के चक्कर में ज़रूरत से ज्यादा खा लेते है |


आँखों पर जोर के कारण –

दोस्तों हम में से कई लोग  ऐसे होंगे जो देर रात तक अपने कंप्यूटर या मोबाइल से चिपके रहते होंगे दोस्तों अगर आप लगातार कई घंटो तक बिना विराम के मोबाइल और कंप्यूटर पर काम करते है या उसका इस्तमाल करते है तो दोस्तों इसके कारण भी आपको Headache की समस्या हो सकती है और ऐसा करने से हमारी आंखे भी कमज़ोर होने लगती है | दोस्तों कई लोगों को किताबे पढ़ने का बहुत शौक होता है वो कम रौशनी में या चलती हुई गाडी में किताबे पढ़ते रहते है दोस्तों ऐसा करने से उनकी आँखों की नसों पर ज़ोर  पड़ता है जिसके कारण उनको  Headache जैसी समस्या होने लगती है |

तनाव –

दोस्तों अपने देखा होगा जब भी हम किसी चीज़ के बारे में लगातार कही घंटो तक सोचते है या फिर हम किसी बात से तनाव में रहते है तो हमारे सर के पिछले या गए हिस्से में Headache  होने लगता है इसलिए दोस्तों हमे तनाव मुक्त जीवन जीना चाहिए और जितना हो सके उतना खुश रहने की कोशिश करनी चाहिए |

नींद में कमी -

दोस्तों जब भी हम गहरी नींद में होते है और नींद पूरी होने पर जागते है तो हमे अच्छा  महसूस होता है इसके विपरीत अगर हमे कोई आधी नींद से उठा दे तो अपने देखा होगा हमे Headache होने लगता है इसलिए दोस्तों हमे भरपूर लेनी चाहिए और ये हमारे स्वस्थ के लिए ज़रूरी भी है |

इसके अलावा दोस्तों कई ऐसे गंभीर कारण है जो एक बड़ी बिमारी संकेत हो सकते है जैसे सर में tumor के कारण होने वाला दर्द , मस्तिष्क में ऑक्सीजन की कमी या किसी कारण मस्तिष्क में रक्त के प्रवाह में अवरोध ,दौरे के कारण |

Headache के लक्षण –

दोस्तों आप सभी लोग Headache के लक्षण तो जानते ही है जब भी किसी भी व्यक्ति को Headache की समस्या होती है व्यक्ति के सर के अगले हिस्से में या पिछले हिस्से में दर्द होने लगता है कई बार दोस्तों व्यक्ति की Headache के साथ साथ मितली भी आती है |

Headache के कुछ घरेलू उपचार –

Headache में पानी –

दोस्तों पानी हमारे  शरीर के लिए कितना उपयोगी है ये तो आप सभी जानते हो दोस्तों कई बार हमे Headache तब होता है जब हमारे  शरीर में पानी की कमी हो जाती है | तो दोस्तों आपको जब भी Headache की समस्या हो तो आप खूब पानी पिए दोस्तों पानी को थोड़े थोड़े अंतराल में पिए ऐसा करने से आपका शरीर haydrate हो जाएगा और आपकी सर दर्द की समस्या भी ठीक हो जाएगी |

Headache में गाय का घी –

दोस्तों आप सभी गाय के गुणों के बारे में तो जानते ही है अगर शुद्ध देसी घी का हम रोज़ाना सेवन करते है तो इसके सेवन से हमारा शरीर बलवान बनता है और हमारे आस पास कोई बिमारी नहीं भटकती | दोस्तों Headache में भी ये गाय का घी बहुत ही लाभकारी है अगर आपको कभी भी Headache की समस्या हो तो आप थोड़ा सा गाय का शुद्ध घी ले और उसे थोड़ा गर्म करले उसके बाद जब वो थोडा ठंडा हो जाए तो उसकी एक एक बूंद अपने दोनों नानक में डाल दे दोस्तों ऐसा करने के कुछ ही देर बाद आपका Headache ठीक हो जाएगा | दोस्तों इसके अलावा गाय का घी  उन लोगों के लिए भी लाभदायक है जिन्हें रात में khanrate (snoring ) की समस्या है वो भी अपने दोनों नाक में यदि देसी घी डालते है तो कुछ ही दिनों बाद उनकी ये समस्या ठीक हो जाएगी |

Cause , Symptoms of Headache and Their Home Remedies in Hindi
headache home remedies

Headache में लौंग –

दोस्तों लौंग में ऐसे बहुत से गुणकारी  chemical होते है जो हमारे शरीर के हर दर्द को ठीक करने के काम आते है अगर किसी को दांत से सम्स्बंधित कोई समस्या है तो वो लॉन्ग का प्रयोग कर सकता है इसके अलावा किसी व्यक्ति को Headache की समस्या है तो वो इस लौंग को पीसकर अपने माथे में लगा सकता है ऐसा करने से व्यक्ति का Headache कुछ ही देर में ठीक हो जाएगा | आप इस लौंग का सेवन भी कर सकते है 3 से 4 लॉन्ग को आप पीसकर ठन्डे पानी या ठन्डे दूध के साथ ले सकते है ऐसा करने से भी आपका headache ठीक हो जाएगा |

 Cause , Symptoms of Headache and Their Home Remedies in Hindi
Headache cause

Symptoms, Cause Of Food Poisoning And Home Treatment In Hindi


Headache में नीम्बू पानी –

दोस्तों कई बार हमारे Headache का कारण गैस या बदहज़मी होती है अगर आपके साथ भी ऐसा होता है तो आप इस नुस्खे का प्रयोग कर सकते है | दोस्तों इसके लिए आपको एक ग्लास पानी में 1 से 2 नीम्बू का रस मिला देना है और उसमे थोड़ी सी चिनी भी और इन सबको अच्छी तरह से मिला कर इसका सेवन कर ले ऐसा करने से आपकी बदहज़मी भी ठीक हो जाएगी और उसके कारण होने वाला headache भी |

Headache में सर की मालिश –

दोस्तों Headache होने पर अगर आप अपने सर की मालिश करते है तो आपको कुछ ही देर में आपके Headache से आपको छुटकारा मिल जाएगा | दोस्तों इसके लिए आपको या तो नारियल का तेल उपयोग करना है या फिर शुद्ध सरसों का तेल अगर आप सरसों का तेल प्रयोग कर रहे है तो मालिश से पहले उसे हल्का गर्म कर लें फिर कम से कम 10 मिनट अच्छी तरह से से अपने सर की मालिश करे ऐसा करने से आपको Headache से बहुत ही जल्दी आराम मिलेगा | 

Tuesday, March 26, 2019

Cause, symptoms of Pneumonia and their Home remedies in Hindi

Cause, symptoms of Pneumonia and their Home remedies in Hindi
pneumonia in hindi


Cause, symptoms of Pneumonia and their Home remedies in Hindi



Pneumonia एक ऐसी गंभीर समस्या है जिसका अगर सही समय पर उपचार न किया जाए तो यह प्रभावित व्यक्ति की जान तक ले सकता है ये एक संक्रामक रोग है जो व्यक्ति को उचित साफ सफाई ना रखने पर या मौसम के बदलाव के कारण होता है ये समस्या इतनी खतरनाक है की ये ज्यादातर छोटे बच्चों , वृद्धो और ऐसे लोगो को अपना शिकार बनाता है जिनकी रोग प्रतिरोधक छमता कम हो इसलिए  आपने कई बार देखा होगा की कोई व्यक्ति या छोटा बच्चा अगर लम्बे समय से बीमार है तो ये Pneumonia उन्हें अपना शिकार बना लेता है |

दोस्तों Pneumonia भी कई प्रकार के होते है जैसे viral  Pneumonia , Becterial Pneumonia और Fungal Pneumonia इसमें  से जो Viral और becterial Pneumonia ये दोनों एक व्यक्ति से दुसरे व्यक्ति में फैलने वाला रोग है | दोस्तों जब किसी को Pneumonia होता है तो उसके फेफड़ो में  संक्रमण हो जाता है और उसके फेफड़ों में पानी और मवाद भर जाती है जिसके कारण व्यक्ति को सांस लेने में भी परेशानी होने लगती है | आप इसके लक्षण को जान कर इसे आसानी से पहचान सकते है तो चलिए जानते है इसके कुछ लक्षण |

Pneumonia के लक्षण –


दोस्तों Pneumonia के लक्षण आम वायरल सर्दी ,जुखाम  के लक्षण से मिलते जुलते है जैसे और खांसी होना बुखार आना ,खांसते वक्त बलगम आना इसके आम लक्षण है यदी ये समस्या ज्यादा बढ़ जाए तो लक्षण और भी ज्यादा दिखाई देने लगते है जो प्रभावित व्यक्ति  को और परेशानी में डाल देते है ये लक्षण इस प्रकार है | सांस लेने में परेशानी होना , सांस लेते समय सीने में दर्द होना  , सीने में जकड़न महसूस होना , दिल की धड़कन का तेज़ होना और उल्टी होना ये लक्षण तब दिखाई देते जब व्यक्ति की Pneumonia ज्यादा बढ़ जाए | इसलिए व्यक्ति को जब भी ये समस्या हो तो व्यक्ति को तुरंत इसका उपचार शुरू का देना चाहिए |

Pneumonia में खान पान –

दोस्तों अगर किसी को Pneumonia हुआ हो तो व्यक्ति को अपने खान-पान का बहुत ध्यान रखना पड़ता है क्योंकि ऐसी स्थिति में व्यक्ति अगर परहेज़ ना करे तो ये समस्या और भी गंभीर हो सकती है जिसके परिणाम बहुत भयानक हो सकते है | Pneumonia होने पर व्यक्ति को ठन्डे पेय पदार्थो से दूर रहना चाहिए और छोटे बच्चों को तो इससे बहुत ख़तरा रहता है क्योंकि छोटे बच्चों की रोग प्रतिरोधक छमता बहुत कम होती है इसके अलावा  व्यक्ति को ऐसे खाद्य पदार्थो से दूर रहना चाहिए जिसमे बनावटी रंग और खुशबु का प्रयोग किया हो | इस समस्या में आपको मिठे से भी दूर रहना है |

खाने के लिए आप साधारण  सुपाच्य भोजन जैसे दाल  रोटी , सब्जी का सेवन करे हरी सब्जियों का सेवन ज्यादा करे इससे आपके शरीर को जरुरी पोषण मिलेगा जिससे आपकी रोग प्रतिरोधक  छमता मजबूत होगी इसके अलावा आप ताज़े फलों का रस भी पी सकते है|

Symptoms, Cause Of Food Poisoning And Home Treatment In Hindi


Pneumonia का घरेलू उपचार –

Cause, symptoms of Pneumonia and their Home remedies in Hindi
pneumonia ke gharelu ilaj

लहसुन –

दोस्तों लहसुन में ऐसे प्राक्रतिक गुण होते है जो हर प्रकार के बेक्टेरिया  से लड़ने में सहायक होता है इसके लिए आप आधा  ग्लास दूध ले और उसमे 1 ग्लास पानी मिला दे और उस पानी में आप चार कलियाँ लहसुन की डाल दे लेकिन आपको लहसुन पीस कर डालना है फिर इस दूध को अच्छी तरह से गर्म करना है जब दूध आधा ग्लास बचे तो उसमे एक चमच शहद डाल कर दिन में दो बार इसका सेवन करे आपको लाभ जरुर मिलेगा  ऐसा आप 8 से 10 दिन करे |
Cause, symptoms of Pneumonia and their Home remedies in Hindi
pneumonia ka ilaj


सब्जियों का रस –

दोस्तों अगर आप रोज़ाना ताज़ी सब्जियों जैसे गाजर ,खीरा  ,चुकंदर और टमाटर का जूस पीते है तो आपके शरीर में इसके बहुत फायेदे होंगे इससे आपके शरीर में खून की कमी पूरी होगी और आपकी रोग प्रतिरोधक छमता में भी इजाफा होगा इसके लिए आपको रोज़ाना इन फलो और सब्जियों का जूस पिए | pneumonia के लिए भी ये जूस बहुत लाभकारी होता है अगर आप इस जूस का रोज़ाना सेवन करते है तो आपके फेफड़ो में होने वाले दर्द और खांसी से आपको आराम मिलेगा | आप इस जूस को रोज़ाना सुबह खाली पेट पिए |
    
 शहद –

दोस्तों शहद हमारे लिए  बहुत ही गुणकारी प्राक्रतिक औषधि है इसमें ऐसे antibecterial गुण होते है जो हमे खतरनाक becteria से बचाते है और कई रोगों से हमारी रक्षा करते है | दोस्तों अगर आपके छोटे बच्चे को जो 4 साल से बड़ा हो उसको Pneumonia हुआ हो तो आप ये घरेलू उपचार उसके लिए प्रयोग कर सकते हो | इसके लिए आपको एक चमच लहसुन के रस का लेना है और उस रस में दो से तीन बूंद शहद का मिला दे फिर इसको अच्छी तरह  से मिला ले और अपने बच्चे को पिला दे | ऐसा आपको दिन में दो बार करना है एक सुबह और एक रात को सोने से पहले इस नुस्खे से आपको लाभ जरुर मिलेगा |

Hair Fall Cause And Their Home Remedies In Hindi


भाप –

दोस्तों  भाप हमारे शरीर के अंदरूनी हिस्से जैसे हमारे स्वांस नली और फेफड़ों की सफाई करता है अगर किसी को स्वांस नली से सम्बंधित कोई समस्या है या किसी को खांसी जुखाम की समस्या है तो वो भी इस नुस्खे को अपना सकता है | Pneumonia में ये नुस्खा बहुत ही कारगर है क्योंकि इससे हमारे फेफड़ो में उपस्थित बलगम ढीली होकर बहार निकल जाती है जिससे सीने की जकड़न जैसी समस्या दूर हो जाती है | इसके लिए आप एक बड़े बर्तन में पानी डाले और उस पानी में आप दो से तीन नीम्बू निचोड़ दे इसके अलावा उसमे आप टीट्री oil भी डाल सकते है | फिर जब पानी खूब गरम हो जाए तो किसी कपड़े  की सहायता से बर्तन और सर को ढक ले और भाप में सांस ले जैसे ही बाप आपके शरीर के भीतर जाएगी आपके फेफड़ो में उपस्थित बलगम की पकड़ ढीली हो जाएगी | अगर आप इसको 3 से 4 दिन करते है तो आपको बहुत लाभ मिलेगा |

हल्दी –

दोस्तों pneumonia में अदंरुनी इलाज के साथ साथ बाहरी इलाज भी बहुत ही लाभदायक होता है अगर अप में से किसी को भी कभी pneumonia हो तो आप इस नुस्खे को भी अपना सकते है इस नुस्खे के लिए हम हल्दी का प्रयोग करेंगे दोस्तों आप एक कटोरी में सरसों का तेल ले और उसमे एक चमच हल्दी मिला दे और फिर इसको थोड़ी देर गर्म करले जब तेल गर्म हो जाए तो उसको हल्का ठंडा होने दे | जब तेल ठंडा हो जाए तो इस तेल से अपने चेस्ट की अच्छी तरह से ,मसाज करे ऐसा करने से आपको बहुत ही लाभ मिलेगा | दोस्तों इसके अलावा  आप अपने चेस्ट पर विक्स का प्रयोग भी कर कर सकते है आपको इससे भी बहुत लाभ मिलेगा | ऐसा आप रोज़ रात में सोने से पहले करे | 

Sunday, March 24, 2019

Symptoms, cause of Food Poisoning and Home treatment in Hindi

Symptoms, cause of Food Poisoning and Home Treatment in Hindi
food poisoning signs


Symptoms, cause of Food Poisoning and Home Treatment in Hindi




Food poisoningएक आम समस्या है जो व्यक्ति को दूषित भोजन के सेवन से होती है हम लोगो में से कई लोगों को ये समस्या कभी ना  कभी ज़रूर  हुई होगी ये समस्या व्यक्ति को बाहर के खाने के सेवन से होती है हम लोग कई बार सडक के किनारे लगे ठेलों पर जाकर कुछ भी खा लेते है और फिर हमे Food poisoning का शिकार होना पड़ता है ऐसा इसलिए होता है क्योंकि बहार बिकने वाले खाद्य पदार्थ ज्यादा समय खुले ही रहते है और उनके खुले होने के कारण उनपर खतरनाक जीवाणु और आस पास की धूल मिटटी पद जाती है जो उस खाने को दूषित कर देती है |

और फिर जब कोई व्यक्ति उस खाद्य पदार्थ का सेवन करता है तो वो food poisoning का शिकार हो जाता है | इसके अलावा  अगर खाद्य पदार्थो को बनाते समय साफ सफाई का ध्यान ना  रखा गया हो या खाना बनाते समय दूषित तेल अथवा दूषित सामग्री का प्रयोग किया गया हो तो इसके कारण भी व्यक्ति को Food poisoning हो सकती है | अक्सर व्यक्ति को जब ये समस्या हो जाती है तो इसका असर व्यक्ति पर 4 से 5 घंटे बाद कभी कभी 1 दिन बाद दिखने लगता है इसका उपचार करने पर ये बहुत ही जल्द ठीक हो जाता है इसलिए इसका शिकार होने पर ज्यादा घबराने की जरूरत नहीं है |

Food poisoning का कारण –

 दोस्तों food poisoning की समस्या व्यक्ति को सिर्फ दूषित खाने से होती है ऐसा भोजन जिसे बनाते समय साफ सफाई का ध्यान ना रखा गया हो या उस भोजन को अच्छी तरह से ना पकाया गया हो तो ऐसे भोजन का सेवन करने से व्यक्ति को Food poisoning की समस्या हो सकती है | खुला हुआ भोजन वातावरण में उपस्थित खतरनाक जीवाणु और वायरस को अपनी और आकर्षित करते और इसके अलावा खुले भोजन पर मखियाँ भी आकार बैठती है और मखियों के साथ साथ हानिकारक बेक्टेरिया भी उस भोजन पर आ जाते  है जिससे वो भोजन और भी हानिकारक हो जाता  है और जब भी कोई व्यक्ति उस भोजन का सेवन करता है तो वो बीमार पड़ जाता है |


वैसे तो Food poisoning कोई गंभीर समस्या नहीं है लेकिन अगर ये छोटे बच्चो , गर्भवती महिलाओं , वृद्ध जन या जिनकी रोग प्रतिरोधक छमता कम है इन लोगों को हो जाए तो ये थोड़ा समस्या बन जाती है इसलिए ऐसा होने  पर प्रभावित व्यक्ति को तुरंत उपचार के लिए ले जाए जिससे उसको ज्यादा हानि ना पहुंचे |

Hair Fall Cause And Their Home Remedies In Hindi


Food poisoning के लक्षण –

दोस्तों व्यक्ति जब भी Food poisoning का शिकार होता है तब इसके लक्षण उसमे 4 से 5 घंटों के भीतर दिखाई देने लगते है लेकिन कई बार इसके लक्षण उसमे 1 दिन बाद भी दिख सकते है जिसमे उसको उल्टी , दस्त ,पेट में दर्द ,बुखार ,थकान मुख्य है Food poisoning होने पर प्रभावित व्यक्ति को जितना हो सके उतना पानी का सेवन करना चाहिए क्योंकि उल्टी और दस्त के कारण उसके शरीर से अव्य्श्क तरल बाहर निकल जाता है इसलिए उसे हाइड्रेट रहना चाहिए |

Food poisoning का घरेलू इलाज –

Symptoms, cause of Food Poisoning and Home Treatment in Hindi,food poisoning ka gharelu ilaj in hindi
food poisoning ka karan


पानी

दोस्तों पानी हमारे शरीर के लिए बहुत ही अव्य्श्क तरल पदार्थ है इसके बिना हमारा शरीर बिलकुल निरजीव है  व्यक्ति को जब भी Food poisoning की समस्या होती है तो उसे सबसे पहले उल्टी और दस्त की शिकायत शुरू  हो जाती है और उल्टी भी बार बार होती है जिससे हमारे शरीर का पानी उल्टी के कारण शरीर से बाहर निकल जाता है और शरीर dihaydrate होने लगता है जो हमारे शरीर के लिए खतरनाक साबित हो सकता है | इसलिए आपको जब भी Food poisoning के लक्षण दिखाई दे तो खूब पानी पिए इसके अलावा  आप नारियल पानी , नमक पानी का घोल या नीम्बू पानी भी पी सकते है | ऐसा करने से आपके शरीर में पानी की कमी नहीं होगी |

अदरक –

दोस्तों अदरक में ऐसे गुण पाए जाते है जो हमारी पाचन शक्ति को और भी मजबूत बनाती है Food poisoning होने पर व्यक्ति की पाचन प्रणाली ठीक से काम नहीं कर पाती जिससे भोजन ठीक से पच नहीं पाता और व्यक्ति को दस्त शुरू हो जाते है ऐसे में आप एक चमच शहद ले और उसमे आधा चमच अदरक का रस मिला ले और उसका सेवन करे ऐसा करने से आपको Food poisoning जैसी समस्या से जल्द ही आराम मिल जायेगा |

जीरा –

दोस्तों Food poisoning होने पर व्यक्ति को पेट में दर्द भी होने लगता है और ये दर्द देर तक रहता है ऐसे में यदि आप जीरे का सेवन करेंगे तो आपको Food poisoning  के कारण हो रहे पेट दर्द से जल्द ही आराम मिल जायेगा | इसके लिए आप आधा चमच जीरा ले और उसे भुन ले जब वो अच्छी तरह से भुन जाए तो उसे पीस ले और पीसने के बाद आप उसको गर्म पानी के साथ खा ले | ऐसा करने से आपको पेट दर्द में बहुत जल्द आराम मिलेगा और आपको अच्छा महसूस होगा इसके अलावा आप जीरे को किसी सूप में मिला कर भी खा सकते है |

 Symptoms, cause of Food Poisoning and Home Treatment in Hindi
food in hindi


नीम्बू –

नीम्बू में बहुत से ऐसे गुण पाए जाते है जो हमारे शरीर के लिए हर प्रकार से लाभदायक होते है इसका प्रयोग हमे गर्मियों के मौसम में रोज़ करना चाहिए इसके सेवन से हमे गर्मी के कारण आने वाले चक्कर से आराम मिलेगा | Food poisoning के लिए ये बहुत ही असर दार घरेलू दावा है अगर आपको Food poisoning की समस्या हो गई हो तो आप एक ग्लास पानी ,में एक नीम्बू का रस निचोड़ ले और उसमे थोड़ी सी यानि 2 से 3 चुटकी चीनी की मिला दे और उसे अच्छी तरह घोल ले और उसका सेवन कर ले इसके सेवन से कुछ ही देर बाद आपको राहत महसूस होगी आप एक दिन में 4 से 5 बार इसका सेवन करे |

Cause And Symptoms Of Jaundice And Their Home Remedies 


Food poisoning से कैसे बचे –

 दोस्तों Food poisoniing कैसे होती है ये तो आपको पता चाल ही गया होगा और आप इससे कैसे बच सकते है ये आप खुद अब खुद समझ सकते है अगर आपको समझ में नहीं आ रहा हो तो चलिए  मैं  आपको बताता हूँ | दोस्तों Food poisoning से बचने के लिए आपको ये ध्यान रखना होगा के आप जब भी भोजन करे तो आपको अपने हाथों  को अच्छी तरह से धोना होगा और ये भी  ध्यान रखें के आप जिस बर्तन में भोजन कर रहे है वो ठीक से साफ़ है या नही | अगर बाहर कही भी भोजन करना हो तो इन बातों का आप ध्यान रखें इसके अलावा आप जिस भी जगह भोजन करे ये सुनिश्चित कर ले के उसके आस पास साफ सफाई है या नहीं |

अधपके भोजन का सेवन ना करे पहले भोजन को अच्छी तरह से पका ले उसके बाद उस भोजन का सेवन करे | यदि आपके घर ,में कोई ऐसा भोजन बना हो जो बहुत जल्दी ख़राब हो जाता है तो उसे तुरंत अपने फ्रिज में रख दे | घर में खाना बनाने से पहले सब्जियों को अच्छी तरह से धो ले और जो सब्जियां उबालने लायक है उसे अच्छी तरह से उबाल कर बनाए |